स्वदेशी विज्ञान जर्नल के संरक्षक एवं महान हिंदी सेवी माननीय प्रोफेसर (डॉ.) गणेश शंकर पालीवाल जी को महामहिम राष्ट्रपति जी द्वारा आत्माराम पुरूस्कार से सम्मानित किया गया

19 अप्रैल 2016: आज स्वदेशी विज्ञान ई-जर्नल के संरक्षक  एवं महान हिंदी सेवी माननीय प्रोफेसर गणेश शकर पालीवाल जी को वर्ष 2012 के आत्माराम पुरूस्कार से महामहिम राष्ट्रपति जी द्वारा राष्ट्रपति भवन में सम्मनित किया गया.  इस आयोजन में वर्ष 2012, 2013, 2014 के सभी चयनित हिंदी सेवी विद्वत्जनों को सात विभिन्न पुरुस्कारों से सम्मानित किया गया. इस समारोह में महामहिम राष्ट्रपति जी के साथ, केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री एवं अन्य गणमान्य अतिथि शामिल थे. ये पुरुस्कार केंद्रीय हिंदी संस्थान, आगरा में 1989  में शुरू किए गए थे एवं इनमें विभिन वर्गों में हिंदी भाषा एवं साहित्य में योगदान के लिए यह पुरुस्कार दिए जाते हैं.

हम स्वदेशी विज्ञान ई-जर्नल की ओर सभी पुरुस्कार प्राप्त गणमान्य विद्वत्जनों को साधुवाद  एवं हार्दिक अभिनन्दन करतें हैं.

 

विस्तृत विवरण एवं फोटो गैलरी के लिए क्लिक करें: http://presidentofindia.nic.in/

 

Dr. Prashant Pant

डॉ. प्रशांत पंत एक शिक्षक, शोधकर्ता, एवं लेखन के रूप में दयाल सिंह महाविद्यालय में सहायक प्रोफेसर के रूप में कार्यरत हैं. उन्होंने आणविक परिस्थितिकी एवं परिस्थितिकी तंत्र में पुनर्स्थापन में पीएचडी प्राप्त किया है. उन्हें दिल्ली हिंदी साहित्य अकादमी, दिल्ली सरकार की ओर से हिंदी छात्र प्रतिभा पुरुस्कार से सम्मानित किया गया है.उनके अन्य रूचिकर विषय वानिकी, लेग्युम फाइलोजेनी, एवं जैव-सूचना विज्ञान हैं. वर्तमान में वे दिल्ली यूनिवर्सिटी के अंतर्गत एक डिग्री कॉलेज में सहायक प्रोफ़ेसर के पद पर नियुक्त हैं. इसके अलावा वे कई अंतर्राष्ट्रीय शोध पत्रों तथा ऑनलाइन जर्नल “बायोइन्फरमेटिक्स रिव्यु” के मुख्य कार्यकारी संपादक के रूप में कार्यरत हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *